इस किन्नर के श्राप के कारण बर्बाद हो रहे हैं लालू, लोग इन्हें प्यार से कहते हैं शबनम मौसी!

बिहार – राजद सुप्रीमो लालू यादव और उनका परिवार इस समय मुसीबतों से घिरा हुआ है। सीबीआई ने पिछले दिनों लालू के कई ठिकानों पर छापे मारे और सीबीआई जल्द ही आय से अधिक संपत्ति के एक मामले में लालू यादव के खिलाफ मामला दर्ज करने की तैयारी कर रहा है। वहीं उनके बेटे तेजस्‍वी का नाम 1000 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति का मामला सामने आया है। लालू की पत्‍नी राबड़ी और बेटी मीसा भारती के खिलाफ भी आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज हो गया है। बड़े बेटे तेजप्रताप भी सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले फंसे हुए हैं। इस सबको देखते हुए एक वाकया याद आता है जो एक किन्नर से जुड़ा हुआ है। Lalu yadav and yadav shabnam mausi.

लालू की बढ़ती परेशानियों के पीछे है इस किन्नर का श्राप :

देश की पहली किन्नर विधायक जिसे लोग शबनम मौसी के नाम से जानते हैं। उन्होंने हाल ही में एक बयान देते हुए कहा था कि, लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के साथ आज जो हो रहा है, वो सही है, ऐसा ही होना चाहिए। लालू और उनके परिवार ने पद का बहुत दुरुपयोग किया है। दरअसल, किन्नर विधायक जिसे लोग शबनम मौसी ने लालू यादव की पार्टी से साल 2003 में सोहागपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा।

लेकिन वहां प्रचार के दौरान राजद के अध्यक्ष लालू यादव एक बार भी नहीं गए और ना ही पार्टी का कोई कार्यकर्ता उनकी मदद के लिए आया। शबनम बताती हैं कि, उन्होंने दिल्ली में लालू यादव के निवास पर जाकर लालू के पीए के सामने लालू और उनके परिवार का सर्वनाश हो जाने का श्राप दिया था। बाद में शबनम ने साल 2000 में मध्य प्रदेश सोहागपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीता और वो विधायक बनने वाली देश की पहली किन्नर हैं।

लालू यादव और उनका परिवार इन मामलों में हैं आरोपी :

राजद सुप्रीमो लालू यादव और उनके परिवार पर मुसीबतें टूट पड़ी हैं, तो शबनम का श्राप सच होता दिख रहा है। एक तरफ तो सीबीआई जल्द ही आय से अधिक संपत्ति के मामले में लालू यादव के खिलाफ मामला दर्ज करने वाली हैं तो वहीं दुसरी ओर उनके बेटे तेजस्‍वी, पत्‍नी राबड़ी और बेटी मीसा भारती के खिलाफ भी आय से अधिक संपत्ति का केस दर्ज हो गया है। आपको बता दें कि लालू यादव बिहार के मुख्‍यमंत्री रहने के साथ ही केंद्रीय रेलवे मंत्री रह चुके हैं, जिस दौरान उनपर चारा घोटाले का आरोप लगा।

लालू पर नया आरोप रेलमंत्री रहते हुए 1000 करोड़ की बेनामी संपत्ति बनाने का है। वहीं उनके बेटे तेजस्‍वी यादव पर कुल 11 मामले दर्ज हो चुके हैं। लालू ने चारा घोटाले में अपना नाम आने के बाद पत्‍नी राबड़ी देवी को बिहार का मुख्‍यमंत्री बनाया और उन पर सरकारी संपत्ति अपने नाम करने का आरोप लग चुका है। बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेश के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग और बेनामी संपत्ति का केस दर्ज हो चुका है।