अजीबो-गरीब: एक घर से निकले 46 साँप, नागिन की खोज अब भी जारी, घर में मची खलबली!

गाजीपुर: कई बार हमारे आस-पास कुछ ऐसी घटनाएँ हो जाती हैं, जिसे देखने के बाद जल्दी अपनी आँखों पर यकीन नहीं होता है। यकीन ना होने के कारण जानकर आप और भी हैरान हो जायेंगे। जब कोई भी असाधारण घटना होती है तो लोग उसके ऊपर जल्दी विश्वास नहीं करते हैं। क्योंकि लोगों को ऐसा कुछ देखने की आदत नहीं होती है। जब व्यक्ति आदत से उलट काम करता है तो वह आश्चर्य में पड़ जाता है। 46 sneak caught from a house.

पृथ्वी पर पायी जाती हैं साँपों की कई प्रजातियाँ:

आप तो जानते ही हैं कि इस पृथ्वी पर प्रकृति ने कई तरह के जीव-जंतु बनाये हैं। कुछ जीव हैं जो जंगलों में रहकर अपना जीवन व्यतीत करते हैं, जबकि कुछ इंसानों के बीच रहते हैं। इंसानों के बीच वही जीव-जंतु रहते हैं जिससे इंसान को फायदा होता है। लेकिन कुछ ऐसे भी जीव इंसान के आस-पास रहते हैं, जो इंसान को नुकसान पहुँचा सकते हैं।

साँपों के बारे में तो आप जानते ही हैं। इस पृथ्वी पर साँपों की कई प्रजातियाँ हैं। इनमे से कुछ ज़हरीले हैं तथा कुछ बिना ज़हर के हैं। बिना जहर वाले साँपों से कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन जब ज़हरीले साँप आपके आस-पास होंगे तो आप यकीनन डर जायेंगे। आपकी हालत एक साँप देखकर खराब हो सकती है तो सोचिये तब क्या होगा जब आपके आस-पास 46 साँप हो?

कांता के घर में 4 दिन पहले दिखा था 1 साँप:

जी हाँ अभी हाल ही में गाजीपुर जिले के मरदह क्षेत्र में एक ही घर से 46 साँप निकले हैं। मरदह इलाके के बोनगा गाँव के रहने वाले कांता राजभर ने कहा कि आज से 4 दिन पहले घर में एक साँप दिखाई दिया था। जब उस साँप की तलाश की गयी तो नहीं मिला। इस घटना के 22 दिन बाद उसकी पुत्रवधू के पैर पर एक साँप चढ़ गया। उसके बाद एक-एक करके 5 साँप दिखाई दिए।

घर में रखे ईंट के चट्टे में छिपे हुए थे सभी साँप:

यह देखने के बाद पुरे घर में दहशत फैल गयी। तुरंत की साँप को निकालना जरुरी हो गया। उन्होंने साँपों को पकड़ने के लिए मलेठी गाँव के एक सपेरे को बुलाया। संपेरे ने जब साँपों को निकालना शुरू किया तो एक के बाद एक 46 साँप बाहर निकले। संपेरे ने बताया कि अभी भी नागिन उसकी गिरफ्त में नहीं आयी हैसभी साँप घर के आँगन में रखे हुए ईंट के चट्टे में छिपे हुए थे। इस घटना के बाद कांता का परिवार ही नहीं बल्कि पूरा गाँव दहशत में है।