पीएम मोदी समेत सभी बीजेपी सांसद उपवास पर, विपक्ष ने बोले तीखे बोल

पीएम मोदी समेत सभी बीजेपी सांसद अपने अपने संसदीय क्षेत्र में उपवास कर रहे हैं। जी हां, यह उपवास विपक्ष के खिलाफ है, ऐसे में विपक्ष सरकार पर इसको लेकर भी तीखे वार करती हुई नजर आ रही है। संसद की कार्यवाही न चलने की वजह से विपक्ष के खिलाफ पीएम मोदी उपवास कर रहे हैं, ऐसे में विपक्ष ने मुद्दों से ध्यान भटकाने का आरोप बीजेपी पर लगाया है। तमाम बीजेपी सांसदों ने अपने अपने संसदीय क्षेत्र में उपवास रखने के साथ ही विपक्ष के खिलाफ हल्लाबोल कर रहे हैं। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

विपक्ष के खिलाफ आज सरकार का देशव्यापी धरना प्रदर्शन है, इसके तहत सभी सांसद भूख हड़ताल करते दिख रहे हैं। यह भूख हड़ताल एक दिन के लिए है। इस उपवास का मतलब है कि सरकार जनता को यह बताने की कोशिश कर रही हैं कि संसद की कार्यवाही विपक्ष की वजह से नहीं चल पाई, जिसकी वजह से जनता के करोड़ो के रूपये बर्बाद हुए हैं, ऐसे में विपक्ष के चेहरे से मुखौटा हटाने के लिए बीजेपी यह उपवास कर रही है। बता दें कि यह उपवास शाम 5 बजे तक चलेगा, तो वहीं इसको लेकर विपक्षीय दलों के नेता  सरकार पर एक के बाद गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

बताते चलें कि कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए कहा कि बीजेपी ये उपवास उन्नाव गैंगरेप से ध्यान भटकाने के लिए कर रही है, इससे पहले राहुल गांधी ने भी ट्वीट करते हुए कहा था कि जल्दी ही पीएम मोदी अपने शासन काल में महिलाओं के साथ बढ़ते अत्याचार को लेकर भी अनशन करेंगे, ऐसे में इसकी सूचना जल्दी ही लोगों को मिल जाएगी। इन सबके अलावा कांग्रेस प्रवक्ता ने ये सिर्फ जुमला है, तस्वीर खिचवाने के लिए पीएम मोदी और सांसद उपवास के नाम पर ढोंग कर रहे हैं।

वहीं बीजेपी से हाल ही में अलग थलग हुए चंद्रबाबू नायडू ने भी सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार विपक्ष पर झूठे आरोप लगा रही है, जबकि संसद सिर्फ केंद्र सरकार की वजह से नहीं चली, क्योंकि सरकार इस बात से डर रही थी कि अगर संसद चल गई तो उसके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा हो सकता है, यही वजह है कि सरकार बार बार संसद को स्थगित करती रही। साथ ही यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि बहुमत होने पर भी सरकार संसद नहीं चला पाई…ये सिर्फ सरकार की अपनी नाकामी है, विपक्ष को आरोप न दें।