बीजेपी के सांसद ही उसके कामकाज पर उठा रहे हैं सवाल, बोले ‘एक भी काम नहीं हुआ’

केंद्र की बीजेपी सरकार भले ही देशभर में  घूम घूम के अपनी सरकार की तारीफ करती हुी नजर आती हो, लेकिन उसके कामकाज को लेकर विपक्ष ही नहीं, बल्कि उसके अपने सांसद भी सवाल खड़े कर रहे हैं, ऐसे में बीजेपी की मुश्किलें दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। बता दें कि लोकसभा चुनाव समेत कई राज्यों में भी चुनाव है, ऐसे में बीजेपी से खुद के ही सांसदों का नाराज होना उसके लिए ठीक बात नहीं है, क्योंकि वो कहते हैं न कि घर का भेदी लंका ठाहे। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

एक के बाद एक दलित सांसद पीएम मोदी से शिकायत करते हुए नजर आ रहे हैं। सांसदो का  कहना है कि मोदी कार्यकाल में एक भी काम नहीं हुआ है। जी हां, ये अब तक बीजेपी पर सबसे बड़ा हमला है। यूं तो अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर भी बीजेपी को अपने सांसदो की आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार सीधे सीधे पीएम मोदी पर सवाल उठ रहे हैं। सासंदो का कहना है कि बीजेपी ने दलितों के लिए कुछ नहीं  किया है। यह बयान तब सामने आ रहे हैं, जब पीएम मोदी ने कहा कि देश में दलितों का सम्मान हमारी सरकार से ज्यादा किसी ने नहीं किया है।

बताते चलें कि यूपी के दलित सांसद योगी सरकार पर अत्याचार का आरोप लगाते हैं, ये विपक्ष के नहीं, बल्कि बीजेपी के ही सांसद है। दलित सांसदो का कहना है कि बीजेपी राज में दलितों केहित के लिए कोई भी काम नहीं हुआ है। साथ ही यूपी के सांसदों ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर नाराजगी जताई है, जोकि पीएम मोदी के लिए राहत की खबर तो हो ही नहीं सकती है।

बताते चलें कि अब तक चार दलित सांसदों ने बीजेपी  सरकार में कामकाज न होने को लेकर पीएम मोदी को पत्र लिखा है। इन सांसदो का कहना है कि जब वे चुनकर आएं थे, तब उन्होंने खुद पीएम मोदी से आग्रह किया था कि दलितों के लिए उचित कदम उठाए, प्राइवेट सेक्टर में नोकरी में आरक्षण दिलवाये, लेकिन अभी तक एक भी काम नहीं हुआ है।

सांसदो का आरोप यह भी है कि चार साल में बीजेपी सिर्फ भाषण देती रही है, काम पर बीजेपी ने जरा भी ध्यान नहीं दिया है। बता  दें कि यशवंत सिंह के अलावा यूपी से बीजेपी के 3 और दलित सांसद भी पीएम को खत लिख चुके हैं, ऐसे में बीजेपी को अपने इन सांसदो की नाराजगी दूर करनी चाहिए, वरना अंजाम क्या हो सकता है, ये तो बीजेपी ने सपने में भी नहीं सोचा होगा। इन सबके अलावा सांसदो के इस आरोप को लेकर विपक्ष भी बीजेपी को आड़े हाथों लेने से बाज नहीं आएगी, ऐसे में बीजेपी की मुश्किलें कम होती हुई नहीं दिखाई दे रही है।