POK में पाकिस्तानी आर्मी और आईएसआई के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, लगे नवाज विरोधी नारे

कोटलीः पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के कोटली इलाके में आर्मी और खुफिया एजेंसी आईएसआई के खिलाफ लोग फिर सड़कों पर उतरे हैं (anti pakistan slogans in POK)। लोगों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की सरकार के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी भी की। प्रदर्शन करने वाले लोग ऑल पार्टीज नेशनल अलाएंस (एपीएनए) के चेयरमैन आरिफ शाहिद के मर्डर की इंडिपेंडेंट जांच की मांग कर रहे हैं।

इस कारण POK में हो रहा है विरोध (anti pakistan slogans in POK) –

पीओके में लोग जिहाद या आतंकी वारदातों में शामिल होने से इंकार कर रहे हैं जिसके चलते पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई उन्हें जबरन उठाकर ले जा रही है।आम जनता उनके बढ़ते अत्याचारों के चलते उनके खिलाफ प्रदर्शन और जमकर नारेबाजी कर रही है।वहां रह रहे लोग पड़ोसी देश भारत की जमकर तारीफ कर रहे हैं औऱ कह रहे हैं कि उनके खिलाफ फोर्स का इस्तेमाल करना या उन्हें परेशान करने का पाक सरकार को कोई हक नहीं है। लोगों का कहना है कि एक पड़ोसी देश के रूप में भारत कहीं अच्छा है।

आरिफ शाहिद के मर्डर की जांच को लेकर हो रही मांग –

कोटली में रहने वाले लोग ऑल पार्टीज नेशनल अलाएंस (एपीएनए) के चेयरमैन आरिफ शाहिद के मर्डर को करीब 4 साल बीत जाने के बाद भी कोई ठोस सबूत सामने न आने के कारण जांच की मांग कर रहे हैं।बता दें कि शाहिद को 14 मई, 2013 को राउलपिंडी में उनके घर के बाहर गोली मार दी थी। लोगों का आरोप है कि उनका मर्डर आईएसआई ने कराया है।

वहीं पाकिस्तान सरकार ने इस मामले में भारत पर आरोप लगाए हैं। पाकिस्तान के नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर सरताज अजीज ने कहा कि, ‘भारत पीओके में माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने इसे इंडियन मीडिया का प्रोपेगैंडा करार दिया है।

इसी बीच हिमाचल प्रदेश में सामाजिक कार्यकर्ता महेश यादव ने संयुक्त राष्ट्र संघ महासचिव बान की मून को खून से चिट्ठी लिखकर पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करने की मांग की है।